Click here to Read

ताजा जानकारी

 

एस्सार ने ग्रीनपीस इंडिया पर मुकदमा किया

Blog entry by समित एच | जनवरी 29, 2014

एस्सार मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन करते महान संघर्ष समिति और ग्रीनपीस इंडिया के कार्यकर्ता। तस्वीर-सुधांशु मल्होत्रा।  22 जनवरी को ग्रीनपीस इंडिया के 14 कार्यकर्ताओं ने मुंबई में एस्सार की महालक्ष्मी स्थित 180 फीट लंबी इमारत को 36x72...

कोयले की कालिख से कैसे पीछा छुड़ाएंगे प्रधानमंत्री जी?

Blog entry by अविनाश कुमार चंचल | जनवरी 20, 2014

महान कोयला क्षेत्र में स्थित एस्सार पावर प्लांट कुछ ही दिनों में इतिहास का हिस्सा बनने वाले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने करीब एक दशक के अपने कार्यकाल में तीसरी बार प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि इतिहास उनके प्रति दयालु होगा। पूरे...

जल-जंगल-जमीन के नायकों को सलाम

Blog entry by jnigam | नवम्बर 12, 2013

Free the Arctic 30. Photo © Gary Taxali हिमालय के जंगल जब विनाश की कगार पर पहुंच चुके थे तब उन जंगलों को बचाने के लिये कुछ अद्भुत लोग उठ खड़े हुए। सुंदर लाल बहुगुणा और विमल बहुगुणा ने देश में चिपको आंदोलन की अलख जगाई।  चिपको...

इस दीवाली ‘आर्कटिक’ के लिये एक दिया जरूर जलायें..........

Blog entry by jnigam | अक्तूबर 31, 2013

दीवाली आने वाली है और हम सभी रोशनी, पटाखे, मिठाइयों, घर की सजावट, रंगीन रोशनियों की झिलमिलाहट के साथ अपने परिवारवालों के बीच छुट्टियां मनाने के मूड में हैं। दीपावली या दीवाली प्रकाश का त्योहार है। यह पर्व हमें याद दिलाता है कि बुराई के...

विरोध के स्वरों का दमन

Blog entry by Dr. Seema Javed | अक्तूबर 30, 2013

पिछले दिनों, दो अक्‍टूबर यानी गांधी जयंती से ठीक 4 दिन पहले आर्कटिक में तेल के निष्कर्षण का शांतिपूर्वक विरोध कर रहे 28 ग्रीनपीस कार्यकर्ता ओं एवं 2 स्‍वतंत्र पत्रकारों को गिरफतार करके रूसी राज्‍य अभियोजक ( स्‍टेट प्रासीक्‍यूटर ) ने...

आर्कटिक 30 की मुहिम चलायें, घर-घर ये संदेश ले जायें

Blog entry by JulietteH | अक्तूबर 17, 2013

आर्कटिक 30 की रिहाई के लिये ग्रीनपीस को संदेश, पत्र और पोस्टर्स के रूप में आपका जो समर्थन हमें मिल रहा है, उससे हम भावविभोर हैं। आप में से कई लोगों ने हम से पूछा है कि आप और क्या कुछ आर्कटिक 30 के लिये कर सकते हैं, विशेषकर वो लोग जो...

पायलिन और जलवायु परिवर्तन

Blog entry by Samit Aich | अक्तूबर 12, 2013

ये लिखते समय मैं उड़ीसा और आंध्र प्रदेश के तट से टकराने वाले तूफान पायलिन के बारे में सोच रहा हूं। पायलिन एक ऐसा तूफान है जो पिछले एक दशक का सबसे खतरनाक तूफान है। तेज हवायें चलने के साथ ही इन राज्यों के सात शहरों की बिजली गुल हो गयी...

'आर्कटिक 30' की रिहाई के लिए देशव्यापी प्रदर्शन

Blog entry by Ruhie Kumar | अक्तूबर 10, 2013

© Sudhanshu Malhotra/Greenpeace 5 अक्टूबर, 2013 को पूरी दुनिया ने मिल कर आर्कटिक 30 की रिहाई के लिये विश्व सौहार्द दिवस मनाया। शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन के अधिकार को बनाये रखने के लिये और आर्कटिक 30 की यथाशीघ्र रिहाई के लिये भारत...

सूखे की मार से बेहाल महाराष्ट्र – देखें दो कड़ियों में

Blog entry by nnautiya | सितम्बर 26, 2013

हर साल बाढ़ से त्रस्त रहने वाले महाराष्ट्र ने इस बार भीषण सूखे की मार झेली। सूखे के कारण पड़े अकाल ने देश में बहुप्रचारित आपदा प्रबंधन की बखिया उधेड़ कर रख दी। दरअसल विकास के नाम पर हो रहे जल, जंगल, जमीन के अधाधुंध दोहन ने देश को...

मेरी ‘महान’ डायरी

Blog entry by अक्षय गुप्ता | सितम्बर 25, 2013

सिंगरौली के नीले आसमान में जहरीला धुंआ छोड़ती चिमनियां। 5 जनवरी 2012 की ठिठुरती सर्दी में, अपने साथी कार्यकर्ताओं के साथ मैंने पहली बार सिंगरौली के दरवाजे पर दस्तक दी। यहाँ की खुशबू ही अलग थी, जिसमें सिर्फ जले हुए कोयले की महक आ रही...

डीएम ने गिनाए मुआवजे के फायदे, ग्रामीणों ने कहा अपना जंगल नहीं छोड़ेंगे

Blog entry by अविनाश कुमार चंचल | सितम्बर 20, 2013

12 सिंतबर की सुबह  महान जंगल में बसे गांव अमिलिया में लोगों के बीच उत्साह, उम्मीदों में नयापन साफ दिख रहा था। वजह जिला कलेक्टर खुद चलकर उनके गांव आ रहे थे। अमिलिया गांव के बेचनलाल अपनी यादों को पकड़ने की कोशिश करते हुए कहते हैं, "ऐसा...

पुरुष न जाई तो न जाई, हम लड़े जाएंगे

Blog entry by अविनाश कुमार चंचल | सितम्बर 6, 2013

अपने जंगल को बचाने आगे आई महिलाएं। फोटो- अविनाश कुमार चंचल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से करीब सात सौ किलोमीटर दूर सिंगरौली जिले में एक महान का जंगल है। इस जंगल को सरकार ने कोयला खदान के लिए प्रस्तावित कर दिया है। जंगल पर करीब 62...

13 - 24 of 55 results.